About CPPRIContactFeedbackEmail
Central Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paper
Central Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paper
Central Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paper
Central Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paperCentral Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paper
Central Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paper
Institute Membership
Central Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paper Central Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paperCentral Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paper
Central Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paper

Central Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paper
Central Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paper Central Pulp & Paper Research Institute (CPPRI), A National level institute to promote R&D in the field of pulp & paper


Live Chat

उपलब्धियाँ


संस्थान ने अपनी स्थापना के बाद से पिछले 18 सालों के दौरान औद्योगिक क्षेत्र और अनुसंधान एवं विकास के क्षेत्र में उल्लेखनीय उपलब्धियाँ हांसिल की है उनमें कुछ मुख्य उपलब्धियां निम्नप्रकार से हैं।

» अनुसंधान एवं विकास/औद्योगिक क्षेत्र में उपलब्धियां
लुग्दी एवं कागज क्षेत्र मकं राष्ट्रीय स्तर के अनुसंधान एवं विकास के बुनियादी ढांचे का निर्माण।
गैर-काष्टीय कच्चे माल के बढ़ते उपयोग के स्थान पर गैर पारम्परिक कच्चे माल पर अनुसंधान
विशेष रूप से लघु एवं माध्यम आकार के लुग्दी एवं कागज मिलों में ऊर्जा और जल संरक्षण को सफलापूर्वक लागू किया गया।
अखबारी कागज, विशिष्ट कागज और लेखन/मुद्रण कागज उत्पादन के लिए जूट के विविधीकरण को हासिल किया गया।
कई प्रौद्योगिकियों को विकसित किया गया, प्रदर्शित और वाण्ज्यिक की गई है उनमें से है :

¤ काले द्रव का डिसिलिकेशन
¤ अखबारी कागज की गुणवत्ता मं सुधार
¤ तिनको (भूषे) के लुगदीकरण का वाष्प चरण .
¤ अखबारी कागज, विशिष्ठ कागज, लेखन/मुद्रण कागज के लिये जूट की उपयोगिता
¤ लुगदियों की इनजाइम लुग्दीकरण .
¤ केनाफ के रेशे से उच्चगुणवत्ता की प्रक्षलिक (ब्लीच्ड) लुग्दी


» अन्य उपलब्धियां

1. वैज्ञानिको के प्रशिक्षण
सी.पी.पी.आर.आई. के वैज्ञानिक विकसिद देशों जैंसे अमेरिका, कनाडा, जापान, नीदरलैंड, आस्ट्रेलिया, स्वीडन इत्यादि से प्रशिक्षित हैं और आज संस्थानन में संबंधित क्षेत्रों में अनुभवी वैज्ञानिको की टीम का प्रतिनिधत्व है।

2. उद्योग के लिये तकनीकी सेवायें प्रदान की गई।
परामर्शी सेवाओं के अतिरिक्त लगभग 10,000 नमूनों का परीक्षण किया गया जिसमें कागज, काले द्रव और गैर रेशेदार सामग्री की नमूने सम्मिलित हैं।

3. कुल परियोजनाएंे ली गई और पूर्ण की गई
अनुसंधान परियोजनाएं : 60
प्रायोजित परियोजनएं : 200

4. सी.पी.पी.आर.आई. द्वारा यू.एन.डी.पी की परियोजनाएं निष्पादित
1979-89: यूएस/आई.एन.डी./206-डिसिलिकेशन आफ बम्बू ब्लैक लिकर
1979-86: यूएस/जी.एल.ओ./79/270-नेपा मिल मे फाइबर फ्रैक्सनेटकर संयत्र को स्थापित करना।
1985-89 1979ःयू.एन.डी.पी./आई.एन.डी./85/048- गैर काष्ठीय कच्चे माल को प्रयोग करने वाली छोटी लुग्दी एवं कागज मिलों के लिये रसायन पुनःप्राप्ति संयत्र।
1989-93ः यू.एन.डी.पी/यूनिडो/ भारत सरकार (सी.पी.पी.आर.आई.)/परियोजना/आई.एन.डी/114/01/99- गैर काष्ठीय लुग्दी एवं कगाज उद्योग को निम्न क्षेत्रों में सहायता‘ :

¤ गैर काष्ठीय लुग्दियों को परिष्कृत करना
¤ जल संरक्षण
¤ ऊर्जा संरक्षण
¤ ठोस अपशिष्ठ उपयोगिता
¤प्रदूषण कमी .


5. सी.पी.पी.आर.आई. द्वारा विदेशों में सम्पन्न किये गये अनुबंध
सेका एफयोन पल्प मिल, टर्की के पुआल के काले द्रव के डिसिलिकेशन का अध्ययन । (पूर्ण)
डी.पी.आर., कोरिया के सिनुजी केमिकल फाइबर काम्पलेक्स के पुआल के काले द्रव के डिसिलिकेशन का अध्ययन
म्यांमार में 5000 टन प्रति वर्ष क्षमता के लिये बुनियादी अभियांत्रिकी के प्रौद्योगिकी की जानकारी।
फोनिक्स पल्प एवं पेपर पब्लिक क.प्र.लि., थाइलैंड में डिसिलिकेशन के परीक्षण किये गये।

6. देश जिनसे प्रायोजित परियोजनाएं ली गई
पाकिस्तान
बांग्लादेश
टर्की
उत्तर कोरिया
सउदी अरब
थाईलैंड
म्यांमार

7. प्रौद्यिगिकी विकास में अंतराष्ट्र्रीय सहयोग
डेनामार्क - सीधी क्षार पुनःप्राप्ति प्रणाली
स्वीडन - काले द्रव का डिसिलिकेशन
आस्ट्रिया - एंड्रिज डबल वायर वांशिग प्रणाली

8. पेटेंट, प्रकाशन और तकनीकी प्रतिवेदन
दायर पेटेंटों की संख्या : 9
प्रदत्त पेटेंटों की संख्या : 4
वाणिज्यक पेटंेटों की संख्या : 2
प्रकाशन और तकनीकी प्रतिवेदनांे की संख्या : 500
अच्छे लेखों के पुरुस्कार : 9

9. संस्थान द्वारा उत्पादि राजस्व
संस्थान की आय नियमित रूप से बढ़ रही है जो 1981 के रु. 30,000 से 2010-11 में 2.43 करोड़ हो गई है। राजस्व का मुख्य हिस्सा परामर्शी एवं प्रौद्योगिकी हस्तांतरण और प्रायोजित परियोजनाओं से आता है।
Member SstDesigns.com
Home Email Feedback Contact About CPPRI